Vitamin Deficiency: Should you take Supplements? || विटामिन कैप्सूल से क्या होता है? || Practo


What is Vitamin deficiency? Are vitamins important? What are the types of vitamins that our body needs? Do vitamin tablets work? Should we take multivitamin supplements? When should we take vitamins? When to take vitamin deficiency test? Are there any vitamin tablet side effects? Dr Rajesh Bhardwaj, a senior ENT specialist, busts the myths around vitamin supplements and talks about their importance in keeping us healthy and how vitamin deficiency can be treated with and without supplements.

Video Breakdown:

0:28 विटामिन सप्लीमेंट के बारे में गलतफहमी

1:03 विटामिन कई तरह के होते हैं

1:29 विटामिन का स्रोत कैसे बनाये रखें

1:48 विटामिन की कमी होने पर क्या करें

#vitaminsupplements #multivitaminkesrot #vitaminsource

Subscribe to our channel for more videos: https://bit.ly/30zJeig

Visit our website: https://www.practo.com/
For video consultations with top doctors, visit: https://prac.to/video-consult
Connect with us:

Facebook: https://www.facebook.com/practo/
Twitter: https://twitter.com/Practo
Instagram: https://www.instagram.com/practo/
LinkedIn: https://www.linkedin.com/company/practo-technologies-pvt-ltd/

Video Transcript:
मुझे मेडिकल रिप्रेजेन्टेटिव या दुकानों की ओर से मुफ्त में एक सैंपल के तौर पर विटामिन की गोलियाँ मिलती हैं,
लेकिन मैंने जिंदगीभर कभी कोई सप्लीमेंट नहीं लिया। क्योंकि अगर आप अच्छी तरह भोजन कर रहे हैं, तो आपको
विटामिन या मल्टीविटामिन लेने की या उस गोली को खाने की कोई ज़रुरत नहीं है।
आजकल चर्चा चल रही है मल्टीविटामिन की, जैसे बिकोसूल है, बिकाडेक्सामिन है, ए टू ज़ेड कैप्सूल है – ये सब
विटामिन सप्लीमेंट्स हैं।
कई बार हमें गलतफहमी होती है कि मल्टीविटामिन या सप्लीमेंट लेने से हमारी सेहत सुधर जाएगी, हमारी रोग
प्रतिरोधक क्षमता यानि इम्यूनिटी बढ़ जाएगी, हम बीमारियों से दूर रहेंगे। ये सारी गलतफहमियाँ हैं, विटामिन का
स्तर जितना होना चाहिए वो हमें खाने से मिल जाता है और उसके अलावा यदि हम अतिरिक्त सप्लीमेंट लेंगे तो इसे
शरीर वॉश आउट यानि बाहर निकाल देता है और आपके शरीर के लिए इसका कोई फायदा नहीं होता।
विटामिन के बारे में यदि हम जानकारी लें तो विटामिन कई तरह के होते हैं – विटामिन ए, विटामिन बी में भी काफी
विटामिन हैं बी1, बी6, बी12, फॉलिक एसिड, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन के, विटामिन डी है। इन तरह
तरह के विटामिनों की हमारे शरीर के भीतर अपनी एक भूमिका होती है। प्रत्येक विटामिन का शरीर के ऊपर अपना
एक बहुत ज़रुरी काम होता है और शरीर को कुछ अपने कार्य करने में वे मदद करते हैं। यदि हम सेहतमंद खाना खाएं,
पोषणयुक्त भोजन करें, मिश्रित आहार लें, यानि फल, सब्जियां, दूध, अँडा, यदि नॉनवेज खाते हैं तो चिकन और
मछली खाएँ, तो हमें इसके अलावा अतिरिक्त विटामिन लेने की ज़रुरत नहीं है।
अगर हम बात करें कुछ कमियों की, तो कुछ लोगों में विटामिन की कमी होती है। या तो उनका आहार ठीक नहीं है
या उनको कुछ बीमारियाँ है जिसकी वजह से वे विटामिनों को को योग्य तरीके से अवशोषित नहीं कर पाते। ऐसे
लोगों को विटामिन सप्लीमेंट लेने की ज़रुरत है। किन लोगों को ज़रुरत है इसका पता लगाने के लिए एक आसान खून
की जाँच करानी पड़ती है। इस खून की जाँच से पता चल जाएगा आपके विटामिन का स्तर क्या है। यदि स्तर कम है
तो हम आपको सप्लीमेंट दे सकते हैं और उसमें आपको फायदा होता है।

IE Brunson Precise
The Iceberg Effect Free Book